email 4284157 1280

Email Outreach क्या है और कैसे करे

Email Outreaching ऐसा प्रॉसेस है, जिसमे आपको किसी दूसरे पर्सन को ईमेल के द्वारा कॉन्टैक्ट करते है।

अक्सर बहुत से ब्लॉगर बस पोस्ट लिखने और उसे पब्लिश करने में इन्वॉल्व रहते है।

हालांकि ब्लॉगिंग का यही तो काम है।

पर ब्लॉगिंग फील्ड में सक्सेस पाने के लिए इतना भर से काम नहीं चलने वाला।

आपको अपने फील्ड जैसे लोगों के साथ कॉन्टैक्ट बढ़ाना होगा, तभी आप सक्सेस पाने के समय को कम कर सकते है।

वैसे तो ब्लॉगिंग फील्ड से जुड़े लोगों से कॉन्टेक्ट करने के लिए बहुत से तरीके है। जैसे: Blog Commenting, Social Media Comment, Telegram, WhatsApp, Google Address जैसे टैक्टिक्स बहुत सारे है।

पर Email के द्वारा कॉन्टैक्ट करना काफी आसान है और ज्यादातर ब्लॉगर लोगों से संपर्क करने के लिए इसका इस्तेमाल करते है।

जहाँ तक बात है सर्विस जैसे साईट का, उनसे संपर्क करने के लिए बहुत से तरीके है जिनमें फोन करना या डायरेक्ट कंपनी एड्रेस पर पहुंचना।

पर ब्लॉगिंग से जैसे फील्ड में इस तरह का कोई मेथड शायद ही उपलब्ध होता है।

क्योंकि ब्लॉगिंग फील्ड में कार्यकलाप वर्चुअल तक ही सीमित रहता है, यही वजह से है कि आपको फोन कॉलिंग या फिजिकल एड्रेस विजिटिंग जैसे सुविधाए नहीं मिल पाता है।

इसी वजह से यहां पर ईमेल ही सम्पर्क करने के लिए सर्वोत्तम जरिया है।

लेकिन आप लोगों से सोशल मीडिया के जरिए भी जुड़े सकते है, पर ईमेल के तरह कारगर साबित होना आसान नहीं है।

Email Outreaching क्या है

किसी पर्सन का ईमेल एड्रेस ऊपर करना और उसे मेल भेजकर किसी तरह के जानकारी प्राप्त करने की आशा करना ही ईमेल आउत्रीचिंग कहलाता है।

Backlinko साईट का अनुसार

Email outreach is the process of getting in touch with other people via email.

Translated

ईमेल आउटरीच ईमेल के माध्यम से अन्य लोगों के संपर्क में आने की प्रक्रिया है।

ईमेल आउटरीच का फायदा जानने के लिए आपको पता होना चाहिए एक बिजनेसमैन डेली 28% समय ईमेल पढ़ने और रिप्लाई करने में लगाता है। यह रिपोर्ट Mckinsay के ब्लॉग पर 2012 में पब्लिश किया गया था।

हालांकि कि यह आंकड़ा पिछले साल 2020 में और बढ़ गया होगा और 2021 में भी और बढ़ने की संभावना है।

इसका पता इस बात से चलता है कि 78% ईमेल एंगेजमेंट 1 साल में बढ़ जाता है HubsPot के अनुसार।

तो इसका फायदा उठाने के लिए आपको भी ईमेल पर ध्यान देना चाहिए।

जब भी हम किसी को ईमेल करते है, तो रिप्लाइ हमेशा वैसा नहीं होता है जैसा कि हम खुद से आशा करते है।

अक्सर ज्यादातर मेल स्पैम बॉक्स या जंक बॉक्स में चला जाता है या फिर इनबॉक्स में कई हप्तों तक पड़ा रहता है।

ऐसे में अगली बार जब भी ईमेल किसी को भेजे तो कुछ बातों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है, ताकि Email Engagement बढ़ सके।

Email वेरीफाई करे

आपको किसी ब्लॉगर को ईमेल भेजना है और उसे भेज दिया।

पर क्या उसे वह ईमेल मिला, जो आपने भेजा था।

हो सकता है आप कहे क्यों नहीं पहुंचा होगा, इस ईमेल पर भी भेजा है।

पर हो सकता है जिसे आपने ईमेल भेजा होगा, उसने अपना पुराना ईमेल एड्रेस चेंज कर लिया होगा।

ऐसे तो में अगर आपको ईमेल भेजना है, तो नए ईमेल एड्रेस खोजना पड़ेगा।

इसके लिए उस ब्लॉगर के ब्लॉग को विजिट करके About Us या Contact Us को विजित करना होगा।

इसके अलावा

  1. उस ब्लॉग के सोशल अकाउंट फेसबुक, यूट्यूब, इंस्टाग्राम को भी विजिट करके प्रोफ़ाइल पेज से खोज सकते है।
  2. सोशल साइट उपलब्ध नहीं होने पर कॉमेंट बॉक्स के जरिए भी ईमेल प्राप्त कर सकते है।

Email Sending Time

वक्त-बेवक्त किसी भी का आना चाहें वो ईमेल भी क्यों ना हो अच्छा नहीं होता है।

इसलिए अगर आप रिप्लाइ पॉजिटिव पाना है, तो ईमेल ऐसे टाईम में सेंड करे ताकि रिप्लाइ की संभावना बढ़ जाए।

  1. सुबह 05:00 – 10:00 का टाइम अच्छा माना जाता है।
  2. दोपहर का खाना खाने के बाद 12:00- 02:00 तक का भी समय सही है।
  3. शाम 07:00 – 09:00 तक का भी समय सही है।

वैसे हो सकता है आपका समय इसमें बिल्कुल फिट ना बैठे, पर आपको इसमें एक्सपेरिमेंट खुद से करना चाहिए कि रिप्लाइ किस समय ज्यादा आपको आता है और इसी समय रिप्लाइ भी करना चाहिए।

Email Words Length

अक्सर जब भी किसी को ईमेल भेजा जाता है, तो बस अपने काम के बारे में सही तरीके से नहीं बता पता है।

जिसका नतीजा होता है रिप्लाइ नहीं मिलना।

कुछ पर्सन अटेंशन पाने के लिए लंबे लंबे लेंथ वाला ईमेल लिखता है, तो कोई बहुत छोटा।

दोनों तरह के ईमेल अक्सर सब्जेक्ट से भटक जाते है और असल काम ही नहीं कर पाते है।

इसलिए ईमेल का लेंथ बिल्कुल सही हो।

HubsPot के अनुसार 50-125 वर्डस वाला ईमेल सही होता है और लेंथ 200 वर्डस से ज्यादा का नहीं होना चाहिए।

इससे रिप्लाई मिलने का चांस 50% है।

Use Emotional & Power Words

ईमेल लिखते समय हमेशा ऐसे वर्डस को भी शामिल करे, जिससे आगे वाला आपको रिप्लाइ करे।

यह वर्ड्स इमोशनल और पावर दोनों हो सकता है।

ऐसे वर्डस सामने वाले से ईमेल पढ़ने के लिए अपील करता है, जिसके वजह से रिजल्ट हमेशा पॉजिटिव मिलता है।

Use Image or Graphics

ईमेल मैसेज बॉडी में हमेशा किसी इमेज या किसी तरह का ग्राफिक्स का इस्तेमाल करे।

क्योंकि ग्राफिक्स के वजह से ईमेल पढ़ने का इंटरेस्ट सिर्फ टेक्स्ट वाले के तुलना में काफी ज्यादा बढ़ जाता है।

लेकिन ग्राफिक्स अटैच करते समय रिलेवंसी का ध्यान रखे।

अगर आप किसी कंपनी से जुड़े है और उसके प्रोडक्ट प्रोमोट करना चाहते है, तो प्रोडक्ट को टेक्स्ट के साथ इन्फॉग्राफिक्स के जरिए बताने का प्रयास करे।

Conclusions

इसके अलावा ईमेल के सब्जेक्ट सेक्शन पर भी सही तरह से ध्यान दें।

आपका ईमेल किस टॉपिक पर बेस्ड है इसे सब्जेक्ट लाइन में ही समझा देने का प्रयास करे।

जैसे अगर किसी को गेस्ट पोस्टिंग के लिए ईमेल भेज रहे है, तो सब्जेक्ट में Guest Post या SEO Guest Post के बजाए Guest Post About Keywords Research जैसे चार पाँच वर्ड्स का इस्तेमाल करे।

ख़ैर यह तो था ईमेल आउत्रचिंग के बारे में

अब आगे अगर आपको पोस्ट पसंद आया तो कॉमेंट करके जरुर सपोर्ट करे या सोशल साइट पर भी शेयर कर सकते है।

इंपॉर्टेंट पोस्ट मिस करने से बचने के लिए ब्लॉग जरुर सब्सक्राइब करे।

💌💌💌💌💌💌💌💌💌💌

अब अंत मैं इस पोस्ट को समय देने के लिए आपका धन्यवाद।

Happy Reading 😁😁😁

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

%d bloggers like this: