word image 41

वर्डप्रेस वेबसाइट का पेज लोडिंग स्पीड कैसे बूस्ट करे

<img class=”wp-image-515 size-large aligncenter” title=”Designed by stories / Freepik” src=”http://richblog.tech/wp-content/uploads/2020/10/word-image-41-1024×1024.png” alt=”how to decrease loading time of wordpress website ” width=”810″ height=”810″ />

किसी भी साईट के लिए slow loading speed बहुत घातक है, क्योंकि गूगल या बिंग जैसे सर्च इंजन साईट के लिए यह भी बहुत बड़ा रैंकिंग फैक्टर्स है।

इसके अलावा यूजर भी ऐसे साईट को बिल्कुल भी पसंद नहीं करता है, जो बहुत देर से खुलता है या जिसका website loading speed बहुत कम है।

तो यहॉं आपको जरुरत है page speed optimisation करने का क्योंकि इसके बिना आपके वेबसाइट या ब्लॉग रैंक करने में बहुत समय लगा देगा।

तो आज के इस पोस्ट में हम जानने का प्रयास करेंगे क्योंकि कोई वेबसाइट या ब्लॉग slow load होता है और कैसे इसे इम्प्रूव करें।

वैसे मैं यहॉं वर्डप्रेस के बारे में ही discuss करूँगा, हालांकि ऑप्टिमाइजेशन जैसा टेक्निक बहुत से प्लेटफॉर्म में काम करती है।

तो चलिए इसका शुरुआत करते है।

Beginner’s Guide

Wrong Hosting Site

कोई भी वेबसाइट शुरुआत में ही लॉन्चिंग के साथ स्लो खुलने लगे तो, तो असल समस्या होस्टिंग में ही है।

आप ऐसे साईट से होस्टिंग प्लान ले लेते है, जिसकी सर्विस अच्छी नहीं है, वह अपने होस्टिंग सर्विसेज को सही तरीके से मेन्टेन नहीं करती है, जिसके वजह से उसका होस्टिंग ठीक तरह से काम नहीं करता है।

या हो सकता है आपने जो प्लान लिया है, वह सही नहीं है। जैसे कई होस्टिंग साईट आपको 1-2GB स्टोरेज देते है, जो किसी भी तरह के साईट या ब्लॉग केिये सही नहीं है।

मेरे हिसाब से स्टोरेज कम-से-कम 10GB से ऊपर होना चाहिए, क्योंकि इससे साईट को खुलते समय ज्यादा स्पेस मिलता है और सभी प्लगइन या विड्जेट सही तरीके से काम करने के वजह से page speed performance सुधरता है।

इसके अलावा आपका डाटा जहाँ स्टोर हो रहा है, वह आपके नजदीक रहने से लोडिंग टाइम काफ़ी हद तक सुधरता है।

जैसे अगर अपने साईट को पटना से होस्ट कर रहे है, तो डाटा स्टोर करने के लोकेशन न्यू दिल्ली सही रहेगा बजाए कैलिफोर्निया (अमेरिका) के।

Reduce Image Size

किसी इमेज का क्या साइज होगा, यह इसके रेसोलुशन और इसके टाइप्स पर निर्भर करता है।

जैसे- किसी raw फ़ाइल का साइज gif फ़ाइल से ज्यादा होगा, उसी तरह gif फ़ाइल का साइज jpeg फ़ाइल से ज्यादा होगा।

हालांकि साइज कम-ज्यादा होने से इसका क्वालिटी में भी फर्क होता है।

इसलिए बेवजह साइज को बढ़ाने से साईट बहुत देर से होने लगता है। जैसे- अगर किसी 500kb इमेज वाले पेज को लोड होने में 5 सेकंड लगता है, तो 1mb इमेज वाले पेज को लोड होने में 10 सेकंड लग सकता है।

Avoid Video

इमेज की तुलना में वीडियो का साइज बहुत ज्यादा होता है। कोई भी एक मिनट अच्छा क्वालिटी वाला वीडियो बीस-तीस मिनट का हो सकता है।

अगर इस तरह का कोई वीडियो किसी पोस्ट में जोड़ते है,तो पोस्ट को लोड होने में कई गुना समय लग सकता है, बिना वीडियो वाले पोस्ट की तुलना में।

तो बिना मतलब के वीडियो पोस्ट में जोड़ने से बचना चाहिए, इसके बजाए यूट्यूब पर एक चेनल बना सकता है और उसका लिंक अपने पोस्ट में देने से पेज स्पीड सही रहेगा।

Liteweight Theme

अगर आप भारी, कई तरह के फंक्शन वाले थीम का इस्तेमाल वेबसाइट में करते है, तो इससे भी स्लो होता है।

क्योंकि इस तरह के थीम में बहुत सारा फंक्शन, प्री-लोडेड प्लगइन, विजेट होता है। इसके अलावा थीम का साइज ज्यादा कोड (css, javascript) के वजह से भी बढ़ जाता है, जो सीधा किसी साईट को धीरे करने के लिए जिम्मेदार है।

जैसे- अगर आप अपने सिंपल ब्लॉग में किसी शॉपिंग साईट वाले थीम का इस्तेमाल करेंगे, तो साईट लोड स्लो होगा ही।

इसलिए बेहतर होगा कोई लाइटवेट थीम जैसे Twenty Nineteen जो वर्डप्रेस के साथ ही आता है या GeneratePress जैसा थीम का ही इस्तेमाल करें।

WordPress Remove Unused Plugins

साईट परफॉरमेंस को बढ़ाने के लिए फालतू (जिनका काम) नहीं है, उस प्लगइन को हटा दे, इससे स्टोरेज कैपेसिटी भी बढेगा और पेज लोड होते समय किसी तरह का रुकावट भी कम होगा।

क्योंकि कोई भी प्लगइन बहुत सारे टेम्पररी फ़ाइल भी क्रिएट करते है, जो वेबसाइट को स्लो करते है, इसके अलावा वह अपना खुद css, javascript फ़ाइल भी बनाते है, जिससे फ़ाइल साइज बढ़ जाता है, जो बहुत बड़ा कारण है साईट देर से लोड होने का।

Advanced Guide

Minify Code

बहुत से डेवलपर (css, javascript,html) का कोड लिखते समय कमैंट्स और वाइट स्पेस का इस्तेमाल फॉर्मेट को समझने में करते है, लेकिन इसके वजह से फ़ाइल का साइज बढ़ जाता है और लोड होने में ज्यादा समय लगाता है।

अननेसेसरी वाइट स्पेस और कमैंट्स को हटा देने से फ़ाइल का साइज कम हो जाता है और पेज लोडिंग टाइम भी बहुत कम जाता है।

इस तरह से विजिटर आपके साईट को पसंद करने लगता है और यूजर इंगेजमेंट भी बढ़ जाता है, जिसका सीधा असर रैंकिंग फैक्टर पर पड़ता है।

Merge CSS & JavaScript

जब आप किसी ब्लॉग या पोस्ट को विजिट करते है, तब इसे खुलने के लिए बहुत से फ़ाइल बैकग्राउंड में लोड होने शुरू हो जाता है, जिनमे css, javascript शामिल होते है।

HTTP/1.1 सर्वर वाले वेबसाइट में यह दोनों फ़ाइल सीक्वेंस में लोड होता है, मलतब जब css फ़ाइल पूरा लोड हो जाता है, तब javascript लोड होना शुरू होता है।

लेकिन HTTP/2 सर्वर वाले वेबसाइट में दोनों फ़ाइल एक साथ लोड होते है, इस वजह से टाइम बहुत कम लगता है, साईट जल्दी से लोड हो जाता है।

अगर आपका वेबसाइट HTTP/1.1 वाले सर्वर पर चल रहा है, तो इसे एक साथ मर्ज(मिला) सकते है और इस वजह से अलग-अलग फ़ाइल ना होने के वजह से page loading speed increase होता है।

Use CloudFare

बहुत सारे DNS (Domain Name Server) बहुत स्लो होता है, जिसे वजह से भी वेबसाइट परफॉरमेंस पर बुरा असर पड़ता है।

इसलिए आप DNS CloudFare वेबसाइट पर शिफ्ट कर सकते है, जो फ्री में खुद का DNS प्रोवाइड करता है, जो बहुत फ़ास्ट होता है और आपका साईट स्पीड में इनक्रेडिबल परिवर्तन आता है।

Last Points

तो आज के इस पोस्ट को मैंने साईट परफॉरमेंस को बढ़ाने के लिए लिखा है।

मुझे विश्वास है की आज का यह पोस्ट आपका बहुत मदद कर सकता है पेज स्पीड बढ़ाने में।

अगर इस पोस्ट से आपको किसी तरह की मदद मिली है, तो मुझे कमैंट्स करके बताने ना भूले और सोशल साईट में भी जरूर शेयर करें, ताकि दुसरो को भी फायदा मिले।

और अब अंत में इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

%d bloggers like this: